Mon. Jan 24th, 2022
Best Places to visit in himachal

हिमाचल प्रदेश, जिसको देव भूमि के नाम से भी जाना जाता है ,हिल स्टेशनों, विचित्र गांवों, बर्फ से ढके पहाड़ों, हरी-भरी घाटियों ट्रेकिंग ट्रेक्स के साथ मशहूर है ।

मनाली

मनाली हिमाचल के सबसे लोकप्रिय हिल स्टेशनों में से एक है। यह जगह कुल्लू जिले में 2,050 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है । यह बर्फ से ढके पहाड़ों के लिए मशहुर है और हिमाचल की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है। पर्यटक गर्मियों के साथ-साथ सर्दियों में भी यहाँ घूमने आते हैं।

Manali

कुल्लू-मनाली में घूमने के लिए अद्भुत जगाहें 

  1. हिडिम्बा मंदिर
  2. सोलंग वैली
  3. जोगिनी झरने
  4. मनु मंदिर
  5. मनाली गोम्पा
  6. भृगु झील
  7. हम्पटा दर्रा
  8. नेहरू कुण्डी
  9. अर्जुन गुफा
  10. वन विहार
  11. हिमालय निंगमापा
  12. बौद्ध मंदिर
  13. वशिष्ठ गर्म पानी के झरने और मंदिर
  14. हिमाचल संस्कृति और लोक कला का संग्रहालय कोठी
  15. ब्यास नदी
  16. ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क
  17. गुलाबा ओल्ड मनाली
  18. रहला जलप्रपात
  19. जगतसुखो
  20. नग्गर कैसल
  21. रोहतांग दर्रा
  22. कटरीन गौरी शंकर मंदिर
  23. मनाली अभयारण्य
  24. निकोलस रोरिक आर्ट गैलरी और संग्रहालय

खज्जियार – भारत का मिनी स्विट्ज़रलैंड

खज्जियार उत्तरी राज्य में स्थित एक हिल स्टेशन है जो हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में स्थित है । यह भव्य घाटी हिमाचल के सर्वश्रेष्ठ पर्यटन स्थलों में से एक है। इसको अक्सर ‘भारत का मिनी स्विट्जरलैंड’ कहा जाता है। सर्दियों के दौरान यहां पहाड़ बर्फ से ढक जाते है जो  इसकी सुंदरता में चार चांद लगा देते हैं। खज्जियार में घूमने फिरने के लिए अद्भुत साहसिक, प्राकृतिक वन्यजीव संस्कृति, पर्यटन स्थल और बहुत कुछ है। 

khajjiar

खाज्जियार में घूमने करने के लिए अद्भुत जगाहें 

  1. खज्जियार झील
  2. कलाटोप वन्यजीव अभयारण्य
  3. खज्जी नाग मंदिर
  4. खज्जियार गांव

शिमला – हिल स्टेशनों की रानी

शिमला भारतीय राज्य हिमाचल प्रदेश का सबसे बड़ा शहर है। यहाँ मौसम ज्यादातर साल भर ठंडा रहता है। गर्मियां के समय वातावरण मध्यम गर्म हो जाता हैं लेकिन सर्दियां बेहद ज्यादा ठंडी होती है । गर्मियों के समय  यहाँ का तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से 28 डिग्री सेल्सियस के बीच ही रहता है । सर्दियों के दौरान औसत तापमान 10°C से 0°C होता है, लेकिन -12°C तापमान का रिकॉर्ड भी है ।अगर आप बर्फ मै घूमने की सोच रहे हो तो दिसंबर से फरवरी सही समय है क्युंकि दिसंबर के अंत से फरवरी की शुरुआत के बीच यहॉं बर्फ पड़ती है ।

Shimla

शिमला में  घूमने के लिए मशहूर जगाहें :

  1. शिमला माल रोड
  2. हेरिटेज वॉक
  3. वाइसरीगल लॉज
  4. रिज
  5. कुफरी और चैली
  6. किपलिंग का घर और वाइसरीगल लॉज
  7. जाखू मंदिर हाइक
  8. टॉय ट्रेन की सवारी

डलहौज़ी

डलहौजी हिमाचल प्रदेश का एक प्राचीन पहाड़ी शहर है। यह चंबा का एक छोटा पर मनमोहक हिल स्टेशन है ! 

यहॉँ भारी मात्रा मे देवदार के पेड़ों और बर्फ से ढकी रहस्यमय जंगल है जो इसको एक अलग और आकर्षक रूप देते है ! जो लोग शान्ति की तलाश में हैं और शांत वातावरण का अनुभव करना चाहते है, उनके लिए ये स्थान किसी स्वर्ग से कम नहीं हैं क्यूँकि यह अपने सुखद जलवायु और आकर्षक घाटियों के लिए जाना जाने वाला डलहौजी हिमाचल प्रदेश के दर्शनीय स्थलों में से एक है।

Dalhosie

डलहौजी में करने के लिए सबसे रोमांचक चीजें :

  1. पंचपुला
  2. कलाटोप वन्यजीव अभयारण्य
  3. सतधारा जलप्रपात
  4. चमेरा झील
  5. गंजी पहाड़ी ट्रेक
  6. दैनकुंड पीक
  7. खज्जियार में पैराग्लाइडिंग
  8. सेंट जॉन्स चर्च डलहौजी
  9. सुभाष बावली
  10. सच पास

सिरमौर

हिमाचल प्रदेश का सबसे दक्षिणी जिला सिरमौर है जो राजगढ़ के पास है । इस जिले में कनेरा नाम का एक बहुत छोटा सा गांव है जो चारों तरफ से सेब के बागो से घिरा हुआ हैं। यह ज़िला भगवान शंकर जी के लिए मशहूर ट्रेक  चूड़धार के लिए जाना जाता है। 

Sirmaur

यहाँ के मुख्य पर्यटन स्थल हैं :

  1. पोंटा साहिब
  2. नाहन
  3. हरिपुरधर
  4. रेणुकाजी झील
  5. शिलाई
  6. माल रोड
  7. चूड़धार चोटी

कसौली

कसौली, हिमाचल के सोलन जिले में स्थित शिवालिक रेंज के बीच बसा एक छोटा हिल स्टेशन है! यह चंडीगढ़ से केवल 60 किमी की दूरी पर है जो कि वनस्पतियों और शांति के साथ छिपा हुआ स्वर्ग है ! यह शहर ब्रिटिश काल के दौरान 1842 में अंग्रेजों द्वारा स्थापित किया गया और शांति एवं आत्मा-संतोष के लिए यहॉँआने की योजना बनाना अच्छा रहेगा !यहां के सभी आकर्षण केन्द्रो को एक से दो दिनों में आसानी से देखा जा सकता है तो सप्ताहिक छुटियो की योजना अवश्य बनानी चाहिए! 

kasauli

कसौली में घूमने के लिए कुछ शीर्ष स्थान यहां दिए गए हैं:

  1. गिल्बर्ट ट्रेल
  2. सनराइज पॉइंट
  3. मनकी प्वाइंट
  4. क्राइस्ट चर्च
  5. गोरखा किला
  6. मॉल रोड
  7. कसौली ब्रेवरी
  8. टिम्बर ट्रेल रिज़ॉर्ट
  9. सेंट्रल रिसर्च इंस्टीट्यूट
  10. सनसेट पॉइंट

कसोल

उत्तर भारत के हिमाचल प्रदेश में पार्वती नदी के तट पर एक छोटा किन्तु बहुत सुंदर उपनगर है जिसको कसोल के नाम से जाना जाता है । यह छोटा सा गांव मणिकरण साहिब के करीब स्थित है । यह उपनगर अपने सुरम्य परिदृश्य और दिलचस्प संस्कृति के लिए मशहूर है।  अपने जीवनकाल में कहीं न कहीं हर भारतीय कम से कम एक बार इस जगह पर आने का सपना देखता है।यहां आकर जिंदगी के तनाव से राहत मिलती है और जो लोग बर्फ पसंद करते हैं उनके लिए यह सप्ताहांत की छुट्टी के लिए अच्छा है। यहाँ हिमपात दिसंबर के महीने के अंत में शुरू होता है और फरवरी तक रहता है। 

kasol

कसोल में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों की एक विस्तृत सूची है, जो निश्चित रूप से आपकी कसोल की यात्रा को यादगार बना देगी :

  1. पारवती रिवर
  2. मणिकरण साहिब गुरुद्वारा
  3. मलना लांग ट्रेक
  4. खीर गंगा
  5. तोश विलेज
  6. तीर्थं वैली
  7. छलै विलेज
  8. पुलगा विलेज
  9. भुंतर टाउन
  10. नग्गर विलेज

धर्मशाला 

धर्मशाला प्रकृति की गोद में बसा एक सुंदर और मनोरम हिल स्टेशन है जो आश्चर्यजनक झीलों, झरनों, रंगीन मंदिर , और पुराने किले और अन्य आकर्षणों से युक्त है। यह हिमाचल के कांगड़ा जिले में स्थित एक शहर है।  यह स्थान पर्यटकों के साथ साथ आध्यात्मिक साधकों और धार्मिक यात्रियों के बीच भी बहुत लोकप्रिय है। मुख्य रूप से यह तिब्बती बौद्धों के लिए एक निवास स्थान है।

dharmshala

धर्मशाला में घूमने के लिए कुछ शीर्ष स्थान :

  1. त्रिउंड हिल
  2. धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम
  3. सेंट जॉन इन द वाइल्डरनेस चर्च
  4. युद्ध स्मारक
  5. तिब्बती कार्यों और अभिलेखागार का पुस्तकालय
  6. भागसुनाग मंदिर
  7. ग्युतो मठ
  8. करेरी डल झील
  9. धर्मकोट स्टूडियो
  10. कांगड़ा का किला
  11. त्सुगलगखांग मंदिर
  12. भागसू झरना
  13. ज्वाला देवी मंदिर
  14. मैक्लॉड गंजो
  15. कालचक्र मंदिर

मणिमहेश : भगवान शिव का निवास

मणिमहेश 4000 मीटर से अधिक की ऊंचाई पर स्थित झील है । यह चंबा जिले में स्थित है इसलिए इसको चंबा कैलाश के नाम से भी जाना जाता है।मणिमहेश यात्रा आपको मणिमहेश कैलाश तक ले जाती है, जो कि भगवान शिव के प्रसिद्ध आराध्यों में से एक है।

manimahesh

मणिमहेश नाम दो शब्दों से मिलकर बना है, मणि (एक रत्न) + महेश (भगवान शिव का दूसरा नाम)। यह माना जाता है कि मणिमहेश की चोटी पर एक “मणि” के रूप शिव लिंग है जो  निश्चित समय पर प्रकाश पड़ने पर बहुत तेज चमकता है । इसलिए इस चोटी को भगवान शिव का घर भी कहा जाता है।

मणिमहेश परिक्रमा रूट :

  1. भरमौर
  2. भरमौर से भरमणी देवि टेम्पल
  3. भरमौर से हड़सर
  4. हड़सर से धन्छो
  5. धन्छो से गौरीकुण्ड
  6. गौरी कुण्ड से मणीमहेश लेक

अगर आप हिमाचल प्रदेश में घूमने का प्लान बना रहे है तो इन बेहतरीन स्थानों को कवर करें। आप अवश्य अपने जीवन का सबसे अच्छा समय यहाँ व्यतीत करोगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *